श्रीश शर्मा: टिप्पणियों की साज सज्जा कैसे करें

श्रीश शर्मा उर्फ़ ई-पण्डित कम्प्यूटर के शौकीन हैं और हिन्दी के प्रेमी । उम्मीद है प्रसन्न हैं और चिट्ठालोक से अलग कहीं अच्छा काम कर रहे होंगे। हिन्दी चिट्ठेकारों को काम की तकनीकी बातें सिखाया करते थे , श्रीश । उनकी यह पोस्ट मैंने अपने मेल बॉक्स में ‘लेबल’ लगा कर रखी है । जब जरूरत होती है उसका लाभ उठा लेता हूँ।

    टिप्पणियाँ करते वक्त यदि हम इन html tags का प्रयोग करें तो वे प्रभावशाली और सुन्दर हो जाती हैं । उदाहरण : लाल्टू के चिट्ठे पर अपनी टिप्पणी के अन्त में मैं हाइपर लिंक का प्रयोग कर सका । टिप्पणी करते वक्त इन html tags के प्रयोग से हम बोल्ड करना , अन्डर लाइन करना और लिंक देना आसानी से कर सकते हैं ।

  ई – पण्डित के प्रति आभार प्रकट करते हुए उनकी यह पोस्ट नए चिट्ठेकारों के फायदे के लिए यहां चेप रहा हूँ :

इस पोस्ट का शीर्षक हरिराम जी के प्रश्न से उपजा। उन्होंने यही प्रश्न पूछा था। ये पोस्ट तो लिखनी पेंडिंग थी ही, उनके प्रश्न से शीर्षक भी मिल गया। तो आज की कक्षा में विभिन्न ब्लॉग सेवाओं पर टिप्पणियाँ में साज-सज्जा करना बताया जाएगा।

वर्डप्रैस/वर्डप्रैस.कॉम

» टैक्स्ट को बोल्ड करने के लिए <b> टैग का प्रयोग करें।

उदाहरण: वाह <b>जुगाड़ी जीतू जिन्दाबाद !</b>

जिससे प्राप्त होगा: वाह जुगाड़ी जीतू जिन्दाबाद !

» टैक्स्ट को इटैलिक करने के लिए <i> टैग प्रयोग करें।

उदाहरण के लिए: जगदीश भाई का जादुई <i>आईना</i>

जिससे प्राप्त होगा: जगदीश भाई का जादुई आईना

» टैक्स्ट को अंडरलाइन करने के लिए <u> टैग प्रयोग करें।

उदाहरण: फुरसतिया तो <u>जबरिया</u> लिखै है, उनका कोई का करि है।

परिणाम: फुरसतिया तो जबरिया लिखै है, उनका कोई का करि है।

» हाइपरलिंक डालना।

अक्सर देखता हूँ कि कई टिप्पणीकार टिप्पणियों में हाइपरलिंक न डाल कर सीधे लिंक लिख देते हैं, यह भद्दा भी दिखता है और लिंक पर जाने के लिए कॉपी पेस्ट करके एड्रैस बार में डालना पड़ता है। इसकी बजाय हाइपरलिंक डालना ज्यादा सुन्दर लगता है, इसके अतिरिक्त उसे क्लिक करने पर सीधे लिंक खुल जाता है।

हाइपरलिंक डालने के लिए निम्न कोड का प्रयोग करें।

<a href=http://example.com>लिंक टैक्स्ट</a>

उदाहरण: आजकल <a href=http://girionline.com/blog>कविराज</a> गद्य भी खूब लिख रहे हैं।

परिणाम: आजकल कविराज गद्य भी खूब लिख रहे हैं।

यदि आप चाहें तो इसमें डिस्क्रिपशन भी डाल सकते हैं।

उदाहरण: कल तरुण भैया बोले कि आलोक तो <a href=http://www.readers-cafe.net/nc/?p=130 title=”तरुण का आलोक पर निठल्ला चिंतन”>नौ दो ग्यारह हो गए</a>।

परिणाम: कल तरुण भैया बोले कि आलोक तो नौ दो ग्यारह हो गए।
(लिंक पर माउस प्वाइंटर लाकर देखिए)

» संदर्भ (quote) देने के लिए निम्न कोड प्रयोग करें।

<blockquote>संदर्भ टैक्स्ट</blockquote>

उदाहरण:

फुरसतिया जी कहते हैं,
<blockquote>बिना टिप्पणी के पोस्ट विधवा की सूनी मांग की तरह होती है।</blockquote>

परिणाम:

फुरसतिया जी कहते हैं,

बिना टिप्पणी के पोस्ट विधवा की सूनी मांग की तरह होती है।

Quote किए गए टैक्स्ट का लुक अलग अलग थीम पर निर्भर करता है।

अन्य भी कुछ टैग हैं पर वो खास उपयोगी नहीं।

ब्लॉगर

ब्लॉगर अन्य चीजों में जहाँ उदार है टिप्पणियों के मामले में कंजूस है। केवल तीन HTML टैग उपलब्ध हैं <b>, <i> और <u> उनके लिए Syntax वही है जो ऊपर बताया है।

बाकी Quote करने के लिए तो टैग उपलब्ध है नहीं। अतः इसके लिए संदर्भ किए जाने वाले टैक्स्ट को डबल कोट्स (“) में लिखें तथा <b> और <i> टैग का प्रयोग करें। टैग का प्रयोग करते हुए ध्यान रखें जो टैग पहले शुरु किया है वही पहले बंद भी करना है।

उदाहरण:

किसी ने सच ही कहा है:
<b><i>”जीतू भाई से नेट पर पंगे लेना खतरे से खाली नहीं।”</i></b>

परिणाम:

किसी ने सच ही कहा है:
“जीतू भाई से नेट पर पंगे लेना खतरे से खाली नहीं।”

यदि थोड़ा और ईस्टाइल मारना है तो निम्न कोड प्रयोग करें। इस कोड से एकदम सही संदर्भ चिन्ह (quotation marks) छपेंगे।

उदाहरण:

किसी ने सच ही कहा है:
<b>&ldquo;<i rel=”cquote”>जीतू भाई से नेट पर पंगे लेना खतरे से खाली नहीं।</i>&rdquo;</b>

परिणाम:

किसी ने सच ही कहा है:
“जीतू भाई से नेट पर पंगे लेना खतरे से खाली नहीं।”

जूमला

निरंतर तथा तरकश आदि जूमला द्वारा संचालित साइटें टिप्पणियों में bbcode का प्रयोग करती हैं।

» टैक्स्ट को बोल्ड करने के लिए

उदाहरण: निरंतर विश्व की [b]पहली ब्लॉगजीन[/b] है।

परिणाम: निरंतर विश्व की पहली ब्लॉगजीन है।

» टैक्स्ट को इटैलिक करना

उदाहरण: निरंतर का [i]नया विशेषांक[/i] पढ़िए।

परिणाम: निरंतर का नया विशेषांक पढ़िए।
» टैक्स्ट को अंडरलाइन करना।

उदाहरण: लिनक्स एक [u]मुक्त स्त्रोत[/u] सॉफ्टवेयर है।

परिणाम: लिनक्स एक मुक्त स्त्रोत सॉफ्टवेयर है।

» टैक्स्ट को स्ट्राइक करना।

इससे टैक्स्ट को काटे जाने का लुक आता है। इसका प्रयोग भूल सुधार दर्शाने हेतु किया जाता है।

उदाहरण: विंडोज विस्टा के लिए न्यूनतम [s]१ जीबी [/s] ५१२ एमबी रैम चाहिए।

परिणाम: विंडोज विस्टा के लिए न्यूनतम १ जीबी ५१२ एमबी रैम चाहिए।

» हाइपरलिंक डालना।

उदाहरण: निरंतर तथा तरकश [url=http://joomla.org]जूमला[/url] द्वारा संचालित हैं।

परिणाम: निरंतर तथा तरकश जूमला द्वारा संचालित हैं।

» इमेज लगाना।

जूमला संचालित साइटों में आप टिप्पणी में इमेज भी लगा सकते हैं।

उदाहरण: [img]http://img272.imageshack.us/img272/5563/battingeyelashes6pt.gif[/img]

परिणाम:

» संदर्भ देना।

उदाहरण:

गालिब ने क्या खूब कहा है:
[quote]हुस्न वाला हो और वफा करे, ये मुमकिन नहीं इस जहाँ में[/quote]

परिणाम:

गालिब ने क्या खूब कहा है:

हुस्न वाला हो और वफा करे, ये मुमकिन नहीं इस जहाँ में

स्माइली लगाना

उपरोक्त सभी सॉफ्टवेयरों में स्माइली का प्रयोग करने संबंधी यह पोस्ट पढ़ें।

पाठकों से

» कृपया कोई गलती हो अथवा कोई चीज रह गई हो तो बताएं।

» ‘लुक’ के लिए कोई हिन्दी शब्द हो सकता है।

» ब्लॉगर में quote करने के लिए दूसरे वाले कोड में टैक्स्ट को बड़ा करने के लिए कोई तरीका है।

इस पोस्ट का शीर्षक हरिराम जी के प्रश्न से उपजा। उन्होंने यही प्रश्न पूछा था। ये पोस्ट तो लिखनी पेंडिंग थी ही, उनके प्रश्न से शीर्षक भी मिल गया। तो आज की कक्षा में विभिन्न ब्लॉग सेवाओं पर टिप्पणियाँ में साज-सज्जा करना बताया जाएगा।

वर्डप्रैस/वर्डप्रैस.कॉम

» टैक्स्ट को बोल्ड करने के लिए <b> टैग का प्रयोग करें।

उदाहरण: वाह <b>जुगाड़ी जीतू जिन्दाबाद !</b>

जिससे प्राप्त होगा: वाह जुगाड़ी जीतू जिन्दाबाद !

» टैक्स्ट को इटैलिक करने के लिए <i> टैग प्रयोग करें।

उदाहरण के लिए: जगदीश भाई का जादुई <i>आईना</i>

जिससे प्राप्त होगा: जगदीश भाई का जादुई आईना

» टैक्स्ट को अंडरलाइन करने के लिए <u> टैग प्रयोग करें।

उदाहरण: फुरसतिया तो <u>जबरिया</u> लिखै है, उनका कोई का करि है।

परिणाम: फुरसतिया तो जबरिया लिखै है, उनका कोई का करि है।

» हाइपरलिंक डालना।

अक्सर देखता हूँ कि कई टिप्पणीकार टिप्पणियों में हाइपरलिंक न डाल कर सीधे लिंक लिख देते हैं, यह भद्दा भी दिखता है और लिंक पर जाने के लिए कॉपी पेस्ट करके एड्रैस बार में डालना पड़ता है। इसकी बजाय हाइपरलिंक डालना ज्यादा सुन्दर लगता है, इसके अतिरिक्त उसे क्लिक करने पर सीधे लिंक खुल जाता है।

हाइपरलिंक डालने के लिए निम्न कोड का प्रयोग करें।

<a href=http://example.com>लिंक टैक्स्ट</a>

उदाहरण: आजकल <a href=http://girionline.com/blog>कविराज</a> गद्य भी खूब लिख रहे हैं।

परिणाम: आजकल कविराज गद्य भी खूब लिख रहे हैं।

यदि आप चाहें तो इसमें डिस्क्रिपशन भी डाल सकते हैं।

उदाहरण: कल तरुण भैया बोले कि आलोक तो <a href=http://www.readers-cafe.net/nc/?p=130 title=”तरुण का आलोक पर निठल्ला चिंतन”>नौ दो ग्यारह हो गए</a>।

परिणाम: कल तरुण भैया बोले कि आलोक तो नौ दो ग्यारह हो गए।
(लिंक पर माउस प्वाइंटर लाकर देखिए)

» संदर्भ (quote) देने के लिए निम्न कोड प्रयोग करें।

<blockquote>संदर्भ टैक्स्ट</blockquote>

उदाहरण:

फुरसतिया जी कहते हैं,
<blockquote>बिना टिप्पणी के पोस्ट विधवा की सूनी मांग की तरह होती है।</blockquote>

परिणाम:

फुरसतिया जी कहते हैं,

बिना टिप्पणी के पोस्ट विधवा की सूनी मांग की तरह होती है।

Quote किए गए टैक्स्ट का लुक अलग अलग थीम पर निर्भर करता है।

अन्य भी कुछ टैग हैं पर वो खास उपयोगी नहीं।

ब्लॉगर

ब्लॉगर अन्य चीजों में जहाँ उदार है टिप्पणियों के मामले में कंजूस है। केवल तीन HTML टैग उपलब्ध हैं <b>, <i> और <u> उनके लिए Syntax वही है जो ऊपर बताया है।

बाकी Quote करने के लिए तो टैग उपलब्ध है नहीं। अतः इसके लिए संदर्भ किए जाने वाले टैक्स्ट को डबल कोट्स (“) में लिखें तथा <b> और <i> टैग का प्रयोग करें। टैग का प्रयोग करते हुए ध्यान रखें जो टैग पहले शुरु किया है वही पहले बंद भी करना है।

उदाहरण:

किसी ने सच ही कहा है:
<b><i>”जीतू भाई से नेट पर पंगे लेना खतरे से खाली नहीं।”</i></b>

परिणाम:

किसी ने सच ही कहा है:
“जीतू भाई से नेट पर पंगे लेना खतरे से खाली नहीं।”

यदि थोड़ा और ईस्टाइल मारना है तो निम्न कोड प्रयोग करें। इस कोड से एकदम सही संदर्भ चिन्ह (quotation marks) छपेंगे।

उदाहरण:

किसी ने सच ही कहा है:
<b>&ldquo;<i rel=”cquote”>जीतू भाई से नेट पर पंगे लेना खतरे से खाली नहीं।</i>&rdquo;</b>

परिणाम:

किसी ने सच ही कहा है:
“जीतू भाई से नेट पर पंगे लेना खतरे से खाली नहीं।”

जूमला

निरंतर तथा तरकश आदि जूमला द्वारा संचालित साइटें टिप्पणियों में bbcode का प्रयोग करती हैं।

» टैक्स्ट को बोल्ड करने के लिए

उदाहरण: निरंतर विश्व की [b]पहली ब्लॉगजीन[/b] है।

परिणाम: निरंतर विश्व की पहली ब्लॉगजीन है।

» टैक्स्ट को इटैलिक करना

उदाहरण: निरंतर का [i]नया विशेषांक[/i] पढ़िए।

परिणाम: निरंतर का नया विशेषांक पढ़िए।
» टैक्स्ट को अंडरलाइन करना।

उदाहरण: लिनक्स एक [u]मुक्त स्त्रोत[/u] सॉफ्टवेयर है।

परिणाम: लिनक्स एक मुक्त स्त्रोत सॉफ्टवेयर है।

» टैक्स्ट को स्ट्राइक करना।

इससे टैक्स्ट को काटे जाने का लुक आता है। इसका प्रयोग भूल सुधार दर्शाने हेतु किया जाता है।

उदाहरण: विंडोज विस्टा के लिए न्यूनतम [s]१ जीबी [/s] ५१२ एमबी रैम चाहिए।

परिणाम: विंडोज विस्टा के लिए न्यूनतम १ जीबी ५१२ एमबी रैम चाहिए।

» हाइपरलिंक डालना।

उदाहरण: निरंतर तथा तरकश [url=http://joomla.org]जूमला[/url] द्वारा संचालित हैं।

परिणाम: निरंतर तथा तरकश जूमला द्वारा संचालित हैं।

» इमेज लगाना।

जूमला संचालित साइटों में आप टिप्पणी में इमेज भी लगा सकते हैं।

उदाहरण: [img]http://img272.imageshack.us/img272/5563/battingeyelashes6pt.gif[/img]

परिणाम:

» संदर्भ देना।

उदाहरण:

गालिब ने क्या खूब कहा है:
[quote]हुस्न वाला हो और वफा करे, ये मुमकिन नहीं इस जहाँ में[/quote]

परिणाम:

गालिब ने क्या खूब कहा है:

हुस्न वाला हो और वफा करे, ये मुमकिन नहीं इस जहाँ में

स्माइली लगाना

उपरोक्त सभी सॉफ्टवेयरों में स्माइली का प्रयोग करने संबंधी यह पोस्ट पढ़ें।

पाठकों से

» कृपया कोई गलती हो अथवा कोई चीज रह गई हो तो बताएं।

» ‘लुक’ के लिए कोई हिन्दी शब्द हो सकता है।

» ब्लॉगर में quote करने के लिए दूसरे वाले कोड में टैक्स्ट को बड़ा करने के लिए कोई तरीका है।

5 टिप्पणियाँ

Filed under blogging

5 responses to “श्रीश शर्मा: टिप्पणियों की साज सज्जा कैसे करें

  1. Anwar

    आप ने क्या बात लिखी है मन प्रसन हो गया वह सच में बहुत खूब ..पहली बार ये पढने को मिला …

  2. पता नहीं कहाँ गायब हैं मास्साब आजकल?

  3. हम भी मास्‍साब को बहुत मिस कर रहे हैं

  4. भाई श्रीश का भी जवाब नहीं था. पता नहीं क्यों उन्होंने लिखना ही छोड़ दिया. असल में वे देशी आदमी थे. इसलिए जो उपाय बताते थे वह बड़ा काम का होता था और इसके लिए वे कोई प्रपंच और आडम्बर भी नहीं करते थे.

  5. पिंगबैक: इस चिट्ठे की टोप पोस्ट्स ( गत चार वर्षों में ) « शैशव

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s